Welcome to Katihar Online

Redme Note5 from Flipkart

कटिहार ऑनलाइन

कटिहार ऑनलाइन मे आप का स्वागत है। यह वेबसाइट कटिहारवासियों के लिए तैयार किया गया है। हमारा उद्देश्य कटिहार को विश्वमंच पर विशिष्ठ स्थान दिलाना है। अपलोगो का स्नेह और प्रेम द्वारा हम अपने लक्ष्य मे सफ़ल होंगे। आपलोगो के लगातार आग्रह पर इस वेबसाइट को हिन्दी मे प्रस्तुत किया जा रहा है। कटिहार बिहार के ३८ जिलों में से एक है| यह पूर्णिया डिवीजन का एक अंग है|

कटिहार 02 अक्टूबर 1973 को पूर्णिया से विभाजित कर के एक पूर्ण जिला बना | कटिहार में चौधरी परिवार, जो कोसी क्षेत्र की सबसे बड़ी जमींदारों में से एक थे, का प्रभुत्व था| चौधरी परिवार के संस्थापक खान बहादुर मोहम्मद बख्श थे जिनके पास कटिहार जिले में लगभग 15,000 एकड़ जमीन एवं पूर्णिया में 8,500 एकड़ की भूमि थी|

कटिहार एक ऐतिहासिक जगह है और भारतीय इतिहास में जगह लेता है। यह कहा जाता है कि हिन्दू भगवान श्री कृष्ण यहां आयें थे। कटिहार पूर्णिया जिले का एक हिस्सा था| मुगल शासन के तहत सरकार ताजपुर महानंदा नदी के पूर्व एवं महानंदा नदी के पश्चिम सरकार पूर्णिया का गठन किया गया था| 12 वीं शताब्दी के आस पास बख्तियार खिलजी के आक्रमण के बाद ने बिहार मुस्लिम शासकों के अधीन आ गया| १३ वीं सदी में गयासुद्दीन इवाज ने अपनी सत्ता को बढ़ाते हुए लगभग पुरे बिहार पर अपनी हुकुमत स्थापित कर ली थी| सन १७७० में पूर्णिया ब्रिटिश शासन के अधीन आ गया और मोहम्मद अली खान पूर्णिया के गवर्नर बने| इस के बाद दक्रेल (Ducurrel) इस जिले का प्रथम अंग्रेज कलेक्टर प्रेवक्षक बना| 1872 में जिला राजस्व कलकत्ता बोर्ड को और कमिसन बनारस मंडल के नियंत्रण मे स्थानांतरित किया गया। ब्रिटिश शासन के प्रारंभिक वर्षों में काफी हद तक कानून और व्यवस्था की स्थापना की गयी थी। आगे पढ़ें »



About us | Sitemap | Terms & Conditions | Privacy Policy | Disclaimer Policy | Refund & Cancellation Policy